दाद की दवा, क्रीम, मेडिसिन, टेबलेट | Dad Ki Dawa Aur Cream

10 सबसे अच्छी दाद की दवा और क्रीम | Dad Ki Dawa Aur Cream

त्वचा की ऊपरी परत में होता दाद एक प्रकार का फंगल इन्फेक्शन है। दाद के कारण त्वचा पर गोलाकार लाल चकत्ते पड़ते है, वहां दर्द और खुजली भी होती है। इस समस्या को जड़ से मिटाने में दाद की दवा और क्रीम उपयोग में लेनी चाहिए।

दाद की दवा, क्रीम, मेडिसिन, टेबलेट | Dad Ki Dawa Aur Cream

दाद को चिकित्स्कीय भाषा में डर्मेटोफाइट्स (Dermatophytosis) या टिनिया कैपिटिस (Tinea capitis) कहते है। यह त्वचा संक्रमण बच्चो से लेकर वयस्कों तक सभी में हो सकता है। खास कर गर्मियों के मौसम में दाद की समस्या ज़्यादा होती है।

त्वचा पर दाद होने के कही कारण हो सकते है। जैसे,

  • नियमित त्वचा की योग्य सफाई न करना।
  • दाद संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आना।
  • दाद ग्रसित जानवर को स्पर्श करना।
  • संक्रमित व्यक्ति द्वारा उपयोग किये जाने वाली चीज़ो का इस्तेमाल करना।
  • लंबे समय तक पसीने में रहना।
  • बालों की योग्य देखभाल ना करना।
  • अत्याधिक टाइट जूते पहनना।
  • रोग प्रतिरोधक शक्ति कमजोर होना।

यदि नियमित रूप से शरीर और त्वचा की सफाई की जाए तो ऐसी स्किन प्रोब्लेम्स से बचा जा सकता हैCDC अनुसार दाद के कुछ मुख्य लक्षण इस तरह होते है।

  • त्वचा पर गोलाकार लाल चकत्ते होना।
  • स्किन उभरी हुई और परतदार लगना।
  • खुजली और जलन महसूस होना।
  • लाल चकत्ते का ज़्यादा फूलना।
  • त्वचा पर लालश या सूजन दिखना।
  • अधिक मात्रा में बाल झड़ना।

यह समझे : अगर आप में उपरोक्त लक्षण दिख रहे है? तो दाद की दवा या क्रीम का उपयोग करना चाहिए। इसके अलावा कुछ घरेलु उपाय द्वारा भी दाद का इलाज कर सकते है।

10 बेस्ट दाद की दवा, क्रीम, मेडिसिन, टेबलेट

यदि दाद के सभी प्रकार जान ले, तो हम सरलता से दाद की सबसे अच्छी दवा का चुनाव कर सकते है। इसलिए यहाँ दाद के मुख्य 4 प्रकार दर्शाए है।

  1. टिनिया बारबाइ : ऐसी दाद चेहरे, गर्दन या दाढ़ी पर निकलती है।
  2. टिनिया कैपेटिस : यह दाद स्कैल्प और बालो में होता है।
  3. टिनिया क्रूसिस : जोड़े, जांघ और नितंब के आसपास दाद होती है।
  4. टिनिया पेडिस : ऐसी दाद खास कर पैरो में होती है।

लिस्ट में हमने सभी प्रकार के दाद को खत्म करने वाली टेबलेट और क्रीम की जानकारी दी है। जिसमे कुछ दवा डॉक्टर की पर्ची द्वारा और कुछ बिना पर्ची मिल जाएगी।

यदि आप जल्दी में है? तो निचे बताई 3 Best Ringworm Cream में से तुरंत खरीदी कर सकते है।

[content-egg-block template=offers_list]

जल्दी नहीं है या क्रीम दवा के बारे में ज्यादा जानना है। तो यह संपूर्ण जानकारी आपके लिए है।

(1) Lulion Luliconazole Dad Ki Cream

Lulion Luliconazole Dad Ki Cream

त्वचा संक्रमण से जुडी परेशानियों के इलाज में ल्यूलिकैन क्रीम का उपयोग किया जाता है। यह क्रीम स्किन इन्फेक्शन फैलाने वाले पदार्थो को बहार निकालती है। साथ ही संक्रमण फैलाने वाले बैक्टेरिया को भी रोकती है। इसका मुख्य घटक लुलिकोनाजोल अच्छा असर दिखाता है।

सभी प्रकार के दाद को मिटाने में यह क्रीम सक्षम है। इंजेक्शन या निगलने वाली दवाओं के मुकाबले यह ज़्यादा असरकारक है। डॉक्टर्स के मुताबिक इस क्रीम को लगाने पर 2 से 4 सप्ताह में दाद की समस्या ठीक होती है और त्वचा स्वस्थ बनती है।

क्रीम के फायदे

  • इससे दाद और उसके लक्षण ठीक होते है।
  • खुजली और जलन की परेशानी हल होती है।
  • दाद के कारण होते दर्द में आराम मिलता है।
  • यह एक बेस्ट एंटी-फंगल दाद की क्रीम है।
  • त्वचाकीय इन्फेक्शन में राहत मिलती है।

क्रीम के नुकसान

  • दाद प्रभावित जगह पर रिएक्शन हो सकता है।
  • त्वचा पर पपड़ी और छाले बनने लगते है।
  • त्वचा पर अधिक रूखापन आ सकता है।

उपयोग कैसे करे

  • डॉक्टरी सलाह अनुसार इसका उपयोग करना योग्य है।
  • दाद वाली जगह को अच्छे से साफ़ कर लीजिये।
  • फिर प्रभावित हिस्से पर इस क्रीम को लगाए।
  • हाथ धो ले, यदि हाथ में दाद हो तो क्रीम लगाए रखे।

क्रीम की प्राइस

फंगल इन्फेक्शन को मिटाने वाली यह क्रीम प्राइस ₹250 में मिलती है। इसे आप डॉक्टरी पर्ची द्वारा किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3mxVdtB” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(2) Luliford Dad Khujli Ki Dawa

Luliford Dad Khujli Ki Dawa

दाद की सुखी और परतदार त्वचा को निकालने में उपरोक्त क्रीम मददगार है। जो लुलिकोनाजोल नामक तत्व से निर्माण हुई है। यदि आपको एथलीट फुट यानि पैर की दाद है, तो इसे लगाते वक्त अपने पैरो की अच्छे से सफाई करनी चाहिए।

चिकित्स्कीय सलाह अनुसार हर उम्र के व्यक्ति इसे उपयोग में ले सकते है। यह दवा संक्रमण फैलाने वाले कीटाणुओं का सफाया करती है। जिस कारण कम समय में ही हमे एक स्वस्थ एवं खूबसूरत त्वचा मिलती है।

ल्यूलिफोर्ड क्रीम के लाभ

  • त्वचा संक्रमण में राहत मिलती है।
  • इससे दाद के चकत्ते दूर हो जाते है।
  • स्किन रेडनेस से छुटकारा मिलता है।
  • अत्याधिक जलन खत्म हो सकती है।
  • त्वचा कोशिकाओं में सुधार आता है।

ल्यूलिफोर्ड क्रीम के गेरलाभ

  • क्रीम के कारण त्वचा में जलन होती है।
  • त्वचा पर लाल रंग के छाले पड़ जाते है।
  • त्वचा में सूखापन होने की संभावना है।

क्रीम का इस्तेमाल

  • दाद प्रभावित क्षेत्र पर क्रीम लगा सकते है।
  • इस क्रीम से मालिश भी की जा सकती है।

ल्यूलिफोर्ड क्रीम की कीमत

दवा कंपनी लीफोर्ड द्वारा निर्मित इस क्रीम की कीमत ₹290 है। जो पैक ऑफ़ 2 कॉम्बो ऑफर में मिलती है। इसकी गुणवत्ता और कार्यक्षमता से अमेज़न के अत्याधिक ग्राहक संतुष्ट है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3muicFT” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(3) Iyush Herbal Ayurveda Marham Ointment

Iyush Herbal Ayurveda Marham Ointment

जिस तरह सामान्य मरहम शारीरिक दर्द ठीक करती है। उसी तरह आयुष ब्रांडेड मरहम त्वचा लक्षी परेशानी एवं दाद को मिटाने में मददरूप है। यह आयुर्वेदिक मरहम है, जो शुद्ध जड़ी-बूटियों से निर्माण हुई है। यह अन्य दवाओं के मुकाबले ज़्यादा सुरक्षित है।

सभी त्वचा प्रकार वाले इस मरहम का इस्तेमाल कर सकते है। इसमें एक्जिमा, दाद, खाज-खुजली, फाट, मुहांसे के दाग और पेट पर से प्रसव के दाग से छुटकारा मिलता है। साथ ही मरहम त्वचा की क्षति ग्रस्त कोशिकाओं में भी सुधार करती है।

मरहम के फायदे

  • 100% आयुर्वेदिक और सुरक्षित है।
  • इससे एक्जिमा में राहत प्राप्त होती है।
  • खाज-खुजली की समस्या ठीक होती है।
  • इससे दाद के दाग-धब्बे दूर हो सकते है।
  • मरहम कोशिकाओं में सुधार करती है।

मरहम के नुकसान

  • इस मरहम से त्वचा रूखी बन सकती है।
  • मरहम के कोई ज्यादा बड़े नुकसान नहीं है।

कैसे लगाना है

  • रिंग वार्म वाली जगह को अच्छे साफ़ करे।
  • फिर उस हिस्से पर सही मात्रा में मरहम लगाए।
  • क्रीम को हलके हाथो से फैलाना चाहिए।

मरहम की प्राइस

गुणकारी 5 आयुर्वेदिक तत्वों से निर्मित यह मरहम प्राइस ₹295 का है। इसे खरीदने पर पैक ऑफ़ 3 की कॉम्बो ऑफर पर फ्री होम डिलीवरी मिलती है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/41UMmlN” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(4) Vidhmaan Ayurveda Anti Fungal Malam

Vidhmaan Ayurveda Anti fungal Malam

एंटी-फंगल के नैचरल इंग्रेडिएंट्स से भरपूर यह मलम दाद को जड़ से मिटाने में समर्थ है। इसका उपयोग करने पर खुजली, रैशेज, ब्लेमिशेस या दूसरे स्किन इन्फेक्शन से छुटकारा मिलता है। इसे आप शरीर के किसी भी प्रभावित हिस्से पर लगा सकते है।

यह काफी लाइट एवं नॉन स्टिकी क्रीम है, जिसके कारण हमे शरीर पर चिकनापन महसूस नहीं होता। ज़्यादा पसीने के कारण कोई स्किन प्रॉब्लम हो तो वह भी इससे ठीक हो जाती है। यह मलम ज़्यादातर त्वचा संबंधी विकारो में राहत दिला सकती है।

मलम के प्रभाव

  • एंटी-फंगल गुणों की अच्छी मात्रा है।
  • दाद एवं खुजली मिटाने में असरदार है।
  • नॉन-स्टिकी फार्मूला से निर्माण हुई है।
  • संपूर्ण आयुर्वेदिक तरीके की बनावट है।
  • धाधर और इन्फेक्शन में राहत मिलती है।

मलम के दुष्प्रभाव

  • कुछ ग्राहक इसकी गुणवत्ता से संतुष्ट नहीं।

उपयोग का तरीका

  • मलम को प्रभावित जगह पर लगाए।
  • हल्के हाथो से उस हिस्से पर मालिश करे।
  • इसे 1 से 2 हफ्तों तक लगाना लाभकारी है।

मलम की कीमत

अत्याधिक ग्राहकों को अच्छा परिणाम देने वाली इस मलम की कीमत ₹150 है। सबसे सस्ते दाम में मिलने वाली यह पूरी वैल्यू फॉर मनी प्रोडक्ट है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3J2fOOt” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(5) Candid-B Tube Of 20 Gram Cream

Candid-B Tube Of 20 Cream

कैंडिड-बी क्रीम एक ​मिश्रित दवा है, जो खास कर क्रीम और लोशन के रूप में मिलती है। दाद के साथ विभिन्न प्रकार के त्वचा इन्फेक्शन से लड़ने में यह मददगार है। इसके मुख्य घटक बेक्लोमेटासोन और क्लोट्रिमाजोल है, जो संक्रमण दूर कर सकते है।

यह डॉक्टरी पर्ची पर मिलने वाली दवा माइक्रोआर्गेनिज्म के विरूद्ध कार्य करती है। जिस कारण शरीर के किसी भी हिस्से का संक्रमण मिट सकता है। डॉक्टर्स द्वारा इस क्रीम को केवल बाहरी अंगो पर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

कैंडिड-बी की विशेषताए

  • फंगल इन्फेक्शन का इलाज किया जाता है।
  • खुजली में काफी हद तक आराम मिलता है।
  • इस लोशन से त्वचाकीय जलन दूर होती है।
  • त्वचा पर होते लाल धब्बो में राहत मिलती है।
  • यह त्वचा संक्रमण दूर करने में सक्षम है।

क्या क्षति होती है

  • अधिक इस्तेमाल से पैरेस्थेसिया हो सकता है।
  • त्वचा में झुनझुनी या चुभन जैसा महसूस होता है।

क्रीम कैसे लगाए

  • इसे दिन में 1 या 2 बार लगाना सही है।
  • दवा को अच्छे से प्रभावित क्षेत्र पर लगाए।

कैंडिड-बी की प्राइस

शक्तिशाली घटको से बनी इस क्रीम की प्राइस ₹130 है। नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने पर कम समय में त्वचा संक्रमण का इलाज होता है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/425FCSu” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(6) Terbinaforce Dad Ki Cream

Terbinaforce Dad Khujli Ki Cream

टर्बिनाफाइन नामक दवा से निर्माण हुई इस क्रीम को टर्बिनाफोर्स कहा जाता है। क्रीम से दाद सहित नाखूनों के फंगल संक्रमण का इलाज किया जा सकता है। यह दवा इंफेक्शन पैदा वाले कवक को बढ़ने से रोकने का कार्य करती है।

दवा संक्रमण फैलाने वाले सभी हानिकारक पदार्थो को नष्ट करती है। जिस कारण खुजली, छाले और जलन जैसे दाद के मुख्य लक्षणों से राहत मिलती है। 5 वर्ष से अधिक आयु वाले सभी लोगो के लिए इस क्रीम का इस्तेमाल सुरक्षित है।

अच्छे परिणाम

  • इससे कीटाणुओं का विनाश होता है।
  • दवा से त्वचा का संक्रमण खत्म होता है।
  • दाद के लक्षणों में आराम मिलता है।
  • फफोले एवं त्वचा की लालश दूर होती है।
  • नाख़ून का फंगल इन्फेक्शन दूर होता है।

बुरे परिणाम

  • इस क्रीम के कारण सिरदर्द हो सकता है।
  • पेट दर्द या गैस बनने की परेशानी हो सकती है।

उपयोग विधि

  • इस्तेमाल से पहले क्रीम को एक बार जांच ले।
  • दाद वाली जगह को अच्छे से साफ़ कर ले।
  • फिर प्रभावित क्षेत्र पर क्रीम लगा सकते है।

टर्बिनाफोर्स की प्राइस

केवल प्राइस ₹60 में मिलने वाली यह क्रीम अधिकांश त्वचा परेशानी मिटा सकती है। यदि इसके कारण कोई भी साइड इफेक्ट्स दिखे, तो तुरंत इसका उपयोग बंद कर दीजिये।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3kTBDHJ” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(7) Terbinaforce Dad Ki Tablet

Terbinaforce Dad Khujli Ki Tablet

टर्बिनाफोर्स क्रीम की तरह ही यह टेबलेट भी शक्तिशाली गुणों से भरपूर है। जो फंगल इन्फेक्शन से जुडी तमाम प्रकार की परेशानी खत्म करने में कारगर है। हाथ, पांव, गले, पैर, दाढ़ी, बाल, गर्दन, कमर और चेहरे पर हुए सभी प्रकार के दाद इससे दूर होती है।

यह टेबलेट मुख्यरूप से इन्फेक्शन फैलाने वाले जीवाणुओं का विनाश करती है। जिस वजह से दाद, खाज-खुजली, जलन, एक्जिमा एवं लाल चकत्ते का इलाज होता है। यदि आपको एंटीबायोटिक्स से एलर्जी है, तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

टेबलेट के फायदे

  • त्वचा के लाल चकत्ते आसानी से निकलते है।
  • इस दवा में जीवाणुविरोधी गुण पाए जाते है।
  • सभी प्रकार के दाद का इलाज हो सकता है।
  • एक्जिमा के लक्षणों को कम किया जाता है।
  • अच्छी क्वालिटी की एंटी-बायोटिक दवा है।

टेबलेट के नुकसान

  • इसके कारण डायरिया हो सकता है।
  • मुँह के स्वाद में थोड़ा बदलाव आता है।
  • पेट में दर्द और अपच हो सकता है।

खुराक या डोसेज

  • इसे आप खाने के पहले या बाद में ले सकते है।
  • दवा को दिन में 1 या 2 बार लेना बेहतर है।
  • इसे स्वच्छ गुनगुने पानी के साथ लेना अच्छा है।

टेबलेट की कीमत

सस्ती कीमत ₹85 में मिलने वाली यह गुणवत्तायुक्त टेबलेट है। जिसके उपयोग से अधिकतर लोगो को बेहतरीन परिणाम मिले है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3yjFwZB” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(8) Candiforce Dad Ki Capsule

Candiforce Dad Ki Capsules

कैंडीफोर्स 200 कैप्सूल में एंटीफंगल्स गुण वाली दवाओं का समूह है। दवा की मुख्य सामग्री में इट्राकोनाजोल नामक तत्व शामिल है। इसका इस्तेमाल मुंह, गले, योनि और शरीर के अन्य हिस्सों के इंफेक्शन में किया जाता है।

ब्लास्टोमायकोसिस, हिस्टोप्लासमोसिस और एसोफैगल कैंडिडिआसिस जैसी स्थितियों में इस कैप्सूल का इस्तेमाल करना योग्य है। स्वास्थ्य निष्णांतो के मुताबिक इस दवा का प्रभाव लगभग 16 से 28 घंटो तक रह सकता है।

कैप्सूल के लाभ

  • एंटी-फंगल के रूप में अच्छे से कार्य करती है।
  • दाद और उसके लक्षण दिखने कम होते है।
  • यह बैक्टेरिया का सफाया करने सक्षम है।
  • इसके कारण स्किन इन्फेक्शन में राहत होती है।
  • कैप्सूल खाज-खुजली का इलाज करती है।

कैप्सूल के गेरलाभ

  • इससे मिचली आना जैसी समस्या हो सकती है।
  • कैप्सूल के कारण दृष्टि में धुंधलापन आ सकता है।
  • महिलाओ में माहवारी सबंधी समस्या हो सकती है।

सेवन विधि

  • आवश्यकता अनुसार इसे 1 या 2 बार ले।
  • भोजन के बाद इस कैप्सूल को ले सकते है।
  • इसे पानी या जूस के साथ लिया जा सकता है।

कैप्सूल की प्राइस

त्वचा संक्रमण का इलाज करने वाली इस दवा की प्राइस ₹140 है। छोटे बच्चो के लिए यह हानिकारक है, इसलिए उन्हें यह मेडिसिन न दे।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3yrOgwJ” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(9) Itch Guard Plus Dad Cream

Itch Guard Plus Dad Cream

इच गार्ड एक प्रकार का मलहम है, जिसका उपयोग खास कर त्वचा संबंधी समस्याओ के उपाय में किया जाता है। फंगल इन्फेक्शन के दौरान अधिकांश चिकित्स्क इसे लगाने की सलाह देते है। यह स्किन प्रोब्लेम्स दूर कर के त्वचा को ठंडक प्रदान करती है।

दवा में टर्बिनाफिन, क्लोट्रिमाजोल, मेंथोल, इच्थामोल, बोरिक एसिड और जिंक ऑक्साइड का संयोजन है। जिससे यह एक बेस्ट क्वालिटी की एंटी-फंगल मलहम बनती है। इसे लगातार 2-3 हफ्तों तक लगाने पर दाद और उसके लक्षण दिखना बंद हो जाते है।

मलहम के गुण

  • यह एक बेहतरीन एंटी-फंगल मलहम है।
  • त्वचाकीय कीटाणुओं का सफाया होता है।
  • इससे दाद में काफी राहत मिल सकती है।
  • खुजली और जलन जैसे लक्षण कम होते है।
  • क्रीम से त्वचा को ठंडक एवं ताजगी मिलती है।

मलहम के अवगुण

  • संवेदनशील त्वचा पर रिएक्शन होता है।
  • मलहम से सामान्य पेट दर्द हो सकता है।

क्रीम कैसे लगाए

  • दाद प्रभावित जगह पर मलहम को लगाए।
  • मलहम लगाने के बाद हाथो को अच्छे से धोए।

मलहम की कीमत

ट्रिपल एक्शन फार्मूला में मिलने वाली इस मेडिसिन की कीमत ₹220 है। अमेज़न के अधिकतर ग्राहकों द्वारा इसे हाई स्टार रेटिंग और पॉजिटिव रिव्यू मिले है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3J07YER” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

(10) Ring Guard Dad Khujli Medicine

Ring Guard Dad Khujli Medicine

सभी तरह के दाद को मिटाने में रिंग कार्ड क्रीम अच्छी है। इसमें मिसोनाज़ोल टोपिकल और नोमयकिन टोपिकल जैसे प्रभावकारी दवा की बनावट है। डॉक्टर्स अनुसार इसका उपयोग करने पर क्रीम की आदत या लत नहीं लगती।

रिंग गार्ड क्रीम एक एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल मेडिसिन है। जो फंगल इन्फेक्शन और बैक्टीरियल इन्फेक्शन को नष्ट करने का कार्य करती है। इस दवा का असर 24 घंटो तक रहता है, इसे लगाने के केवल 7 घंटे में इसके अच्छे परिणाम नज़र आते है।

क्रीम के फायदे

  • इससे दाद का अच्छा इलाज होता है।
  • एथलीट फुट दाद में बेहद असरदार है।
  • कान के इन्फेक्शन में राहत होती है।
  • इससे मुँह में फंगल इन्फेक्शन नहीं होता।
  • डर्मेटाइटिस समस्या में राहत मिलती है।

क्रीम के नुकसान

  • इससे एलर्जी या रिएक्शन हो सकता है।
  • स्वाद में थोड़ा बदलाव आ सकता है।

उपयोग कैसे करे

  • क्रीम को एक दिन में 2 बार लगा सकते है।
  • प्रभावित जगह को स्वच्छ कर के क्रीम लगाए।
  • इसके बाद हाथो को सही तरह से साफ़ करे।

क्रीम की प्राइस

12 ग्राम में मिलने वाली यह दवा 1 ट्यूब में आती है, जिसका प्राइस ₹70 है। स्वास्थ्य निष्णांत के दिशानिर्देश अनुसार इसका उपयोग करने पर त्वचा संक्रमण आसानी से दूर होता है।

[wpsm_button color=”main” size=”medium” link=”https://amzn.to/3L65N5b” icon=”none” class=”” target=”_blank”]ऑफर प्राइस में ख़रीदे[/wpsm_button]

दाद के घरेलू उपाय

यदि दाद के शुरुआती लक्षण दिख रहे है या दाद का असर ज़्यादा नहीं है? तो आप इसे सरल घरेलु उपाय द्वारा मिटा सकते है। यह क्रीम, टेबलेट या दवाओं के मुकाबले अधिक सुरक्षित और आसान होते है।

(1) नीम की पत्तिया

आयुर्वेद में नीम को सभी गुणकारी वनस्पतियो में से एक माना गया है। नीम में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते है। जो सभी प्रकार की त्वचाकीय परेशानी और दाद को मिटाने में असरकारक है।

नीम की पत्तिया त्वचा पर बेहतरीन एंटी-फंगल के रूप में कार्य करती है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट और विटामिन-ई भरपूर मात्रा में पाए जाते है। जो स्किन प्रोब्लेम्स दूर कर के उसे स्वस्थ और सुंदर बनाते है।

उपयोग कैसे करे

  • नीम की पत्तियों को पानी में उबाल कर, उस पानी से स्नान करे।
  • नीम पाउडर का लेप बना कर दाद वाली जगह पर लगाए।
  • दाद प्रभावित हिस्से पर नीम तेल से मालिश कर सकते है।

(2) नारियल का तेल

सभी प्रकार की त्वचा लक्षी परेशानियों को हल करने में नारियल तेल अच्छा है। नारियल तेल लगाने से त्वचा स्वस्थ एवं चमकदार बनती है। दाद के कारण त्वचा पर आया रूखापन भी इससे दूर होता है।

नारियल तेल में माइक्रोबियल और एंटी-फंगल गुण होते है। जो दाद एवं खुजली का इलाज करने में कारगर है। साथ ही नारियल तेल में कपूर डाल कर लगाने से काफी फायदे मिलते है।

उपयोग करने का तरीका

  • नारियल तेल को हल्का सा गरम कर ले।
  • दाद प्रभावित क्षेत्र पर तेल से मालिश करे।
  • तेल में हल्दी और कपूर मिला सकते है।

(3) लहसुन का पेस्ट

शोध अनुसार लहसुन में एंटी-फंगल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण पाए जाते है। जो तमाम प्रकार की त्वचा संक्रमणकारक परेशानियों को खत्म कर सकते है। बेहतरीन घरेलु उपाय में लहसुन का इलाज सबसे सरल है।

त्वचाकीय इन्फेक्शन जैसे की खुजली, फोड़े-फुंसी, घमौरियां, जलन, लाल दाने, चकत्ते एवं दाद की समस्या इससे ठीक होती है। संक्रमण मिटाने में लहसुन की ताज़ा कली ज़्यादा असरदार होती है।

इस्तेमाल कैसे करे

  • लहसुन की छाल निकाल कर उसे बारीक़ पीस ले।
  • इस लहसुन के लेप को संक्रमित जगह पर लगाए।
  • आप चाहे तो इसमें शहद भी मिला सकते है।

नोट : यदि बताये उपाय द्वारा आपको राहत नहीं मिलती। तो बिना देरी किये सीधा डॉक्टर के पास जाना चाहिए। फिर उनकी सलाह अनुसार ही दवा शुरू करनी चाहिए।

सवाल जवाब (FAQ)

त्वचा संक्रमण के कारण होते दाद को लेकर लोगो के मन में कही सवाल है। जिनमे से यहाँ महत्वपूर्ण सवालों के जवाब दर्शाए है।

(1) दाद को जड़ से खत्म करने के लिए क्या करे?

दाद को जड़ से ख़त्म करने के लिए आप 3 तरह के उपाय आजमा सकते है।

  1. मेडिसिन या क्रीम्स द्वारा
  2. त्वचा निष्णांत की ट्रीटमेंट से
  3. आसान घरेलू उपाय से

(2) दाद के लिए सबसे अच्छा क्रीम कौन सा है?

हमारे लिस्ट अनुसार निचे दर्शाई क्रीम्स दाद में प्रभावकारी है।

  1. Lulion Luliconazole Cream
  2. Luliford Cream
  3. Iyush Herbal Marham
  4. Vidhmaan Anti Fungal Malam
  5. Candid-B Cream

(3) पुराने से पुराने दाद की दवा क्या है?

पुराने से भी पुरानी दाद को मिटाने में ल्यूलिकैन क्रीम अधिक असरकारी है। इसके अलावा स्किन ट्रीटमेंट और घरेलु उपाय से भी दाद ठीक हो सकती है।

(4) दाद खाज खुजली का रामबाण इलाज क्या है?

कुछ सरल घरेलू उपचार द्वारा दाद, खाज-खुजली का अच्छा इलाज होता है।

  • नींबू का रस लगाना
  • सरसो या नारियल तेल से मालिश करना
  • नीम वाले पानी से नहाना
  • हींग वाला पानी उपयोग में लेना
  • मुंग की दाल पीस कर लेप लगाना

(5) किस विटामिन की कमी से दाद होता है?

खास कर विटामिन-ए और डी की कमी से दाद होने की संभावना रहती है। यह दोनों विटामिन त्वचा के लिए आवश्यक होते है।

आशा करती हु 10 सबसे अच्छी दाद की दवा और क्रीम की बेहतर जानकारी दे पायी हु। पोस्ट पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

Leave a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *